Latest News

कश्‍मीर में घुसने के फिराक में आतंकी हाफिज सईद का करीबी अबू मूसा

Yamini Saini

सुरक्षा एजेंसियों की रिपोर्ट के मुताबिक हाफिज सईद का करीबी अबू मूसा, अगले 10 से 15 दिन में कश्‍मीर में दाखिल हो सकता है.

 

पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर हुए आतंकी हमले के बाद से जिस तरह से भारतीय सेना ने कश्‍मीर में आतंकियों को खत्‍म करने का अभियान चलाया है, उसके बाद आतंकी संगठन भी खौफ में हैं. खबर है कि मुंबई हमले के मास्‍टरमाइंड हाफिज सईद अब अपने सबसे करीबी रिश्‍तेदार को कश्मीर में दाखिल कराने के फिराक में है. सुरक्षा एजेंसियों की रिपोर्ट के मुताबिक हाफिज सईद का करीबी अबू मूसा कश्मीर में अगले 10 से 15 दिन में कश्‍मीर में दाखिल हो सकता है.

हाफिज सईद घाटी में लश्कर को मज़बूत करने के लिए अपनी सबसे भरोसेमंद साथी अबू मूसा को कश्‍मीर में भेजने की तैयारी में है. बताया जा रहा है कि अबू मूसा को घाटी में युवाओं को आतंकी संगठन में शामिल कराने का जिम्‍मा सौंपा गया है. इसी के साथ अबू मूसा घाटी में युवाओं को खास तरह की ट्रेनिंग भी देगा.

गौरतलब है कि जम्‍मू-कश्‍मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले के बाद से पाकिस्‍तान में पनप रहे आतंकियों को खत्‍म करने की कवायद तेज कर दी गई है. सूत्रों के मुताबिक भारत के साथ अब फ्रांस सरकार भी संयुक्‍त राष्‍ट्र संघ में जैश-ए-मोहम्‍मद को प्रतिबंधित करने का प्रस्‍ताव पेश कर सकती है. भारत अब फ्रांस के साथ मिलकर पाकिस्‍तान से चलाए जा रहे आतंकी संगठनों पर प्रतिबंध लगाने के अन्‍य विकल्‍पों पर विचार कर रहा है. बताया जा रहा है कि भारत और फ्रांस जैश-ए-मोहम्‍मद के सरगना मसूद अजहर के साथ-साथ उसके भाई अब्‍दुल रौफ असगर और जैश से जुड़े अन्‍य आतंकियों के खिलाफ भी यूएन में प्रस्‍ताव पेश कर सकते हैं.

Related News you may like

Article

Side Ad