Latest News

पानी के अभाव में नही बन रहा पौषाहार, विद्यार्थी परेशान

Yamini Saini
  • 15 दिन से खानपुर में पानी की किल्लत, प्रशासन मौन
भीनमाल/जालोर- निकटवर्ती आदर्श राजकीय माध्यमिक विद्यालय खानपुर में पिछले 15 दिनों से पानी नही आने के कारण विद्यार्थियों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। नन्हे मुन्हे विद्यार्थियों के लिए बहुत ही गंभीर समस्या है। कई छोटे छोटे विद्यार्थी पानी की समस्या को देखते हुए घर से बोतल भरकर लाते है तो  कई विद्यार्थी विद्यालय में आने से भी कतराते है। अध्यापकों का कहना है कि पिछले 15- 20 दिनों से यह समस्या है लेकिन कोई आला अधिकारी ध्यान नही दे रहे है।
 
पौषाहार बनाने और दूध पिलाने पर भी समस्या
 
आदर्श राजकीय माध्यमिक विद्यालय खानपुर में पानी की किल्लत से गत दो दिन से पोषाहार भी नही बनाया जा रहा है। पोषाहार प्रभारी भगवान सहाय ने बताया कि विद्यालय में वर्तमान में चार टांके बने हुए है एवं एक टांका निर्माणाधीन है लेकिन पानी नही आने के कारण बच्चों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। पानी के अभाव में पोषाहार भी बंद कर दिया है। दूध पिलाने के बाद बर्तन साफ करने मे भी परेशान होना पड़ रहा है।
 
ग्रामीण युवा मंडल ने करवाई वैकल्पिक व्यवस्था
 
पानी की समस्या को देखते हुए ग्रामीण युवा मंडल के अध्यक्ष टीकमाराम भाटी एवं उपाध्यक्ष राजेन्द्र पुरोहित ने विद्यालय का निरीक्षण किया। इस दौरान बच्चो को परेशान होते हुए देखकर पानी के टेंकर की वैकल्पिक व्यवस्था करवाई गई। प्रधानाध्यापक जबरसिंह राव ने बताया कि स्थानीय विद्यालय में 486 विद्यार्थी अध्ययनरत है। छात्र- छात्राओं के बैठने के लिए जो पुराने कमरे बने हुए है वह जर्जर हो चुके है। वर्षा ऋतु में पानी टपकता है। नवीन कक्षा कक्ष निर्माण की सख्त आवश्यकता है। उन्होंने बताया कि पुरोहित समाज की ओर से विद्यालय में सीसीटीवी कैमरे लगाए गए है जिनसे अच्छी मोनिटरिंग हो रही है इस बार परिणाम भी पूर्व से बेहतर आएंगे।
 
जलस्तर घटा, अवैध नल कलेक्शन बढ़े
 
आपणों ग्रामीण राजस्थान एवं हुक्मनामा की टीम ने गांव के जलाशयों का निरीक्षण कर पानी की समस्या के बारे में जानकारी चाही तो पता चला कि गांव में पानी का जलस्तर धीरे धीरे कम हो गया है। जिससे पानी लंबी दूरी तक नही पहुँच पाता है। खानपुर गांव में 100 से अधिक अवैध नल कलेक्शन भी देखने को मिले। कई जगह पानी कम आने के कारण बूस्टर लगाकर पानी खीच लेते है, जिससे आगे तक पानी नही पहुँचता है।
 
जलदाय विभाग के कर्मचारी की पोस्ट रिक्त
 
ग्रामीणों ने बताया कि जलदाय विभाग के कर्मचारियों की कई महीनों से पोस्ट रिक्त होने से सप्लाई समय पर नही हो रही है। सरपंच अशोक कुमार पुरोहित ने बताया कि जलदाय विभाग के आला अधिकारियों और जनप्रतिनिधियों से कई बार रिक्त पोस्ट भरने हेतु मौखिक एवं लिखित में अवगत करवाया लेकिन समस्या जस की तस बनी हुई है। सरपंच ने बताया कि वैकल्पिक व्यवस्था के तौर पर निजी आय से हबताराम देवासी को नियुक्त किया है। पुरोहित ने बताया कि गांव में नवीन ट्यूबवेल खुदाई हेतु प्रस्ताव लेकर जलदाय विभाग को भेजा गया है। उन्होंने बताया कि स्कूल की चारदीवारी की ऊँचाई भी बढाई जाएगी।
 
पानी में प्लास्टिक डालने से बीमारियों का खतरा
 
ग्रामीणों का कहना है कि गाँव मे जलदाय विभाग का कर्मचारी का पद रिक्त होने के कारण पँचायत ने वैकल्पिक व्यवस्था के लिए निजी कर्मचारी नियुक्त किया है। जो लम्बी दूरी तक पानी पहुचाने के लिए अवैध क्लेक्शनों को बंद करने के उद्द्देश्य से पानी मे प्लास्टिक केरी बेग के टुकड़े डाल देता है, जिससे पेट की भयंकर बीमारियों का खतरा रहता है।।

Related News you may like

Article

Side Ad