Latest News

लॉन्ग रेंज मिसाइल बराक-8 का परीक्षण सफल

Yamini Saini
  • टू-स्टेप बराक 8 एलआर-एसएएम मिसाइल को हवाई खतरों से निपटने के लिए तैयार किया गया

  • डिफेंस रिसर्च एंड डेवलपमेंट ऑर्गनाइजेशन ने इजराइल के साथ मिलकर ये मिसाइल बनाई

 

चेन्नई. डिफेंस रिसर्च एंड डेवलपमेंट ऑर्गनाइजेशन (डीआरडीओ) ने गुरुवार को जमीन से हवा में मार करने वाली लंबी दूरी की मिसाइल बराक-8 का सफल परीक्षण किया। यह परीक्षण ओडिशा के तट पर नौसेन्य युद्धपोत आईएनएस चेन्नई से किया गया। इस दौरान मिसाइल ने कम रेंज वाले एक टारगेट को हवा में निशाना बनाया। हाई रेडियो फ्रीक्वेंसी/इंफ्रारेड होमिंग तकनीक से लेस टू-स्टेप बराक-8 को हवाई खतरों से निपटने के लिए तैयार किया गया।

रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने दी बधाई

  1.  डीआरडीओ की इस सफलता पर रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने ट्वीट कर इंडियन नेवी और डीआरडीओ को बधाई दी। रक्षा मंत्रालय ने सोशल मीडिया पर सफल परीक्षण को मील का पत्थर बताया।

     

  2.  यह मिसाइल अधिकतम 2 माक (2469 किमी/घंटा) की रफ्तार से 70 किमी तक टारगेट को भेदने की क्षमता रखती है। जहाज से फायर करने पर यह अधिकतम 500 मीटर तक टारगेट का भेद सकती है। मिसाइल में लगा रडार सिस्टम इसे 360 डिग्री में मार करने की क्षमता प्रदान करता है।

     

  3.  बराक-8 को इजरायल एयरोस्पेस इंडस्ट्री (आईएआई) और डीआरडीओ ने मिलकर बनाया है। भारत और इजराइल के बीच हुए राफेल एडवांस डिफेंस सिस्टम समझौते के तहत इस मिसाइल को तैयार किया गया। दोनों देशों ने इसपर 2006 से साथ काम करना शुरू किया।

Related News you may like

Article

Side Ad